Mallikarjun Kharge wants to visit Sonia Gandhi after victory मल्लिकार्जुन खड़गे जीत के बाद सोनिया गांधी से मिलने जाना चाहते थे. उसकी एक योजना थी

कांग्रेस के अगला अध्यक्ष घोषित के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे का सबसे पहला कदम अंतरिम प्रमुख सोनिया गांधी के साथ दिल्ली में 10 जनपथ

स्थित आवास पर मिलने का सबसे अच्‍छा समय था। बताय गया की 30 मिनट तक नेताओं के साथ बातचीत के बाद सोनिया गांधी ने फैसला किया

इस अवसर को देखते हुए वास्तव में उल्टा होना चाहिए। 10 जनपथ से बैठक श्री खड़गे के घर 10 राजाजी मार्ग पर वह फिर से स्थानांतरित हो गई।

 सोनिया गांधी थीं, जिन्होंने गुलदस्ता लेकर गाड़ी को नीचे अच्‍छे तरह से उतारा। बताय गया की कांग्रेस नेतृत्व शायद ही कभी किसी पार्टी नेता के घर गया।

बताय पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अपवाद थे। बताय गया की 2015 में सोनिया गांधी ने कोयला घोटाला मामले में वह दो बार के

 प्रधान मंत्री को तलब किए जाने के बाद एकजुटता दिखाने के लिए फिर से पार्टी कार्यालय से मनमोहन सिंह के घर तक कांग्रेस मार्ग का नेतृत्व किया।

श्रीमान खड़गे के घर सोनिया गांधी की यात्रा बताय गया की गांधी परिवार को एक अच्‍छा संदेश भेजने की उम्मीद थी खड़गे नए प्रमुख हैं।

बताय गया की कांग्रेस के नए प्रमुख के पदभार संभालने पर इस के बारें में कई सवालों के जवाब में उन्होंने कहा की नए अध्यक्ष पार्टी में

मेरी भूमिका तय करेंगे। 21वीं सदी में पहली गैर-गांधी अध्यक्ष बनें हैं। आजादी के बाद कांग्रेस का नेतृत्व ज्यादातर नेहरू-गांधी परिवार के सदस्य ने किया।