radha krishna status

Radha krishna 2 Episode Watch Serial | Best tips Story

  Radhakrishna 2 Episode Watch Serial | Best tips Story

राधाकृष्णा -2.

radha krishna episode 2

राधा रावल गांव, बृजभूमि में वृषभान की बेटी के रूप में जन्म लेती हैं। वृषभान अपनी बेटी को देखता है, लेकिन यह देखकर हैरान रह जाता है कि उसकी आंखें अभी भी बंद हैं, देवकी कंस की जेल की कैद में कृष्ण को जन्म देती है। दोस्त आज के इस पोस्ट में जानेंगे किस तरह से राधा और कृष्ण का जन्म होता हैं तो दोस्त चलते है इस पोस्ट की ओर

Note-

यह एक राधा कृष्ण second episode पर अधारीत कहानी हैं जो की पढ़ ने में बहुत ही दिलचस्प लगता हैं और इसे अलग – अलग मिडया के माध्यम से देखा जा सकता हैं, जैसे – trp of indian serials , adha krishna on hotstar, radha krishna serial hotstar , YouTub इत्यादि चैनल के माध्यम से इस कहानी को देखा जा सकता हैं।

radha krishna serial

radha krishna painting
radha krishna painting

Radhakrishna 2 Episode Watch Serial | Best tips Story

राधा रानी के जन्म के बारे में यह कहा जाता है कि राधा जी माता के पेट से पैदा नहीं हुई थी उनकी माता ने अपने गर्भ को धारण कर रखा था उन्होंने योग माया कि प्रेरणा से वायु को ही जन्म दिया। परन्तु वहां स्वेच्छा से श्री राधा प्रकट हो गई।

आज राधा के जन्म कि किलकारीयां बृजभूमि के उत्तर प्रदेश मथुरा ज़िला में बरसाना के रावल गांव के सबसे संपन्न परिवार में ग्वालो के मुखिया वृषभान के घर में गूंजने वाली थीं। सभी लोग नाचते गाते धूम मचाते रहते बरसाने में तभी वृषभान आते ही कहते हैं आज नाही संगित रूकेगा ना ही पांव कि थाप वृषभान के घर में किलकारी गूंजने वाली हैं तभी दाई मैया आती हैं वृषभान के पास वृषभान दाई मैया को देखी पूछते हैं की दाई मैया मुंह काहे लटकाई हुई हो आज तो उत्सव मनाने का दिन हैं।

दाई मैया बोलती हैं अपने घर में लाली हुई हैं। दाई मैया की पूरी बात नहीं सुनी और वृषभान बोले बोल दो सबको जाकर अपने घर में लक्ष्मी आई हैं और दौरते अंदर की ओर जाते हैं। वृषभान अपनी पत्नी से कहते हैं कीर्ति आज तुमने हमें धन कर दिया इसे अपने पलकों पर बैठा कर रखूंगा जैसे आंखों में सपना। अपनी लाडली का मुख तो देखु। मुख देखते ही बोलते हैं वृषभान कितना सुंदर मुख हैं इनका ऐसा लगता हैं। की जिवन भर देखता रहूं और इसकी आंखे जैसे ही आंख का नाम लेते हैं तो देखते हैं की आंख खोलती ही नहीं । तभी दाई मैया बोलती हैं की यहीं बताने वली थी। की लाली अभी तक आंखे नहीं खोली हैं। वृषभान कहते हैं ऐसा नहीं हो सकता हैं।

radha krishna serial cast
radha krishna serial cast

माता कीर्ति बोलती हैं ऐसा ही हुआ हैं जिसे आप पलको पर बैठाना चाहते हैं उसी की पलके बंद हैं। जिसे आप सपना बनाना चाहते हैं उस लाडलि अपनी आंखे ही नहीं खोली वर्षों पश्चात माता बनने का सपना पूरा हुआ पर वह सपना मुझे देख ही नहीं सकती । उस के बाद दुसरे दिन वृषभन दान पुन करते अपनी लाडली का नामाकरन कराते हैं नामाकरन करते समय एक गोकूल बासी कौशल कहते हैं कन्या तो धारा होती हैं जो कि माई को छोड़कर ससुराल चली जाती हैं वृषभान जी लाडली का नाम धारा रख दो तभी वृषभान जी कहते हैं नहीं कौशल धारा तो बह जाती हैं। मेरी लाडली बहने के लिए नहीं इस संसार में रस्य फैलाने आई हैं। धारा बहती हैं ये सिचेगी इसलिए धारा नहीं इसका नाम होगा राधा जो अपने उदगम से दुर जाए वो धारा जो अपने उदगम में लोट आऐ वो राधा जो संसार के चक्र में चले वो धारा और जो संसार के चक्र को बदल दें वो राधा तभी रोने लगती हैं कीर्तिदा तभी वृषभान बोलते हैं प्रयासों में निश्चय हो और महादेव कि कृपा हो तुम देखना राधा इस संसार को देखेगी अपनी सक्ति और सामख्य से जो हम से बने वो में करूगां ईश्वर जब कोई भेद देता हें ना उसे अधुरा कभी नहीं छोड़ता और फिर हमारा ईश्वर इतना कठोर तो नहीं हां वो परीक्षा लेना चाहता हैं जो अपने राधा के लिए दुगां ।

और सच में इस परीक्षा को पूरी लगन से नीभाया वृषभान ने राधा को अपनी जीवन का धारा बनालिया वृषभान राधा के परछाई कि तरह रहता और प्रयास करते रहते की किसी भी प्रकार दृष्टि हिनता की परछाई राधा से दुर हो जाए। कोई वैदय नहीं छोड़ा जिसका उचार ना अपनाया हो कोई विधि नहीं छोड़ी जिसे संपन्न ना करवाया हो धिरे – धिरे सारा बरसाना मानने लगा की राधा की आंखे नहीं खुलेगी।

बस अपने विश्वास पर विश्वास था। वृषभान ने फिर एक दिन अंधेरी रात में अपनी राधा और पत्नी के साथ वैद के पास जा रहे थें अचानाक समय खराब हो गया उसी रात देवकी अपने कृष्ण को जनम देती हैं।  देवकी अपने पुत्र को देखते ही रह जाते हैं। कृष्ण अपने माता के गोद में मुस्कुराते उधर राधा अपने माता के गोद में मुस्कुरातें दिखता हैं।

radha krishna serial images
radha krishna serial images

देवकी कहती वासुदेव से क्या इसका भाग्य अपने बाकी भाइयों से भिन्न होगा जिनकी हत्या कंश कर चुका हैं। और देवकी माता कृष्ण को अपने गले से लगा लेती हैं देवकी कहती वासुदेव से की इनको बचालो वासुदेव कहते हैं कैसे बचा सकता हुं इस बंधि घरो में इतने सैनिको के बीच मैं क्या कर सकता हुं देवकी और उधर राध अपनी माता के गोद में मुस्कुराती कीर्ति कहते हैं वृषभान से हमे डर सा लग रहा हैं राधा मुस्कुरा रहीं हैं।

उसके बाद अचानक से बिजली के गजराहट से बैल डर जाते हैं और पालकी से निकर कर भाग जाति हैं। वृषभान और कीर्ति नीचे जमिन पर गिर जाते हैं। दोनो बेहोस हो जाते हैं राध जोर – जोर से रोने लगति हैं। उसके बाद उधर वासुदेव के हाथ और पेड़ की जंजिर खुल जाते हैं1 और सभी सैनिक जमिन पर लेट जाते हैं और देवकी वासुदेव से कहती हैं ले जाये इसे कही छोड़ आये कहीं सुरक्षित तभी वासुदेव कहते हैं परंतु इसे में कहां लेजाऊं। देवकी कहती हैं।

radha krishna status
radha krishna status

जिसने आपको स्वयं मुक्ती का मार्ग दिखाया हो वह आप को लक्ष्य तक पहुंचाई देगा। उसेके बाद देवकी गले से लगा कर रोने गलती है फिर वासुदे गोद में ले कर जाने लगता हैं जैसे – जैस आगे की ओर बढ़ते वेसे वेसे दरवाजा खुलते जाता हैं सातो दरवाजे के बाहर निकलते ही देखते हैं की यमुना में बाढ़ आया हैं। तभी वासुदेव को यमुना में एक टोकड़ी तेरती दिखाई दी उसी टोकड़ी में कृष्ण जी को रखते हैं और अपने सर के उपर रखकर चल देते हैं जैसे – जैस अगे बढ़ते वैसे वैसे पानी की धारा कमती जाती हैं उसके बाद बहुत तेज बारीश होने लगती हैं तभी पांच मुख वाले साप प्रकट होती हैं वह अपने छत्र छाया में ढ़क लेतेह हैं और राधा जी को वृक्ष अपने छत्र छाया में ढ़क लेते हैं। उसके बाद वासुदेव यमुना नदि से बाहर निकलते हैं। इसेके बाद हम अगले पोस्ट में यह जानेंगे की वासुदेव कृष्ण जी को किसके पास छोड़ आये थें। यदि आप इसके बाद क्या होगा जानना चाहते है तो नीचे दिए गये लिंक पर किलिक कर के देख सकतें हैं।

कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास में कृष्ण पक्ष में अष्टमी तिथि, रोहिणी नक्षत्र के दिन रात्री के 12 बजे हुआ था । कृष्ण का जन्मदिन जन्माष्टमी के नाम से भारत, नेपाल, अमेरिका सहित विश्वभर में मनाया जाता है। कृष्ण का जन्म मथुरा के कारागार में हुआ था। वे माता देवकी और पिता वासुदेव की 8 वीं संतान थे।

भगवान श्री कृष्ण का जन्म मथुरा के कारागार में हुआ था श्री राम जन्म 10 जनवरी, 5114 ईसा पूर्व हुआ था भगवान श्रीकृष्ण श्री विष्णु के आठवे अवतार के रूप में जन्म लिया था य़ह शोध महर्षि वाल्मीकि की रामायण में लिखित है। radha krishna yesterday episode

राधा रानी के जन्म के बारे में यह कहा जाता है कि राधा जी माता के पेट से पैदा नहीं हुई थी उनकी माता ने अपने गर्भ को धारण कर रखा था उन्होंने योग माया कि प्रेरणा से वायु को ही जन्म दिया। परन्तु वहां स्वेच्छा से श्री राधा प्रकट हो गई। radha krishna story जैसे ही श्री radha krishna आमने-सामने आते है। (radha krishna love) तब राधा जी पहली बार अपनी आंखे खोलती है। राधा रानी ब्रजभानु दुलारी हैं जो बरसाने में अवतरित हुईं थी।

राधा जी के बारे में प्रचलित है कि वह बरसाना की थीं। लेकिन, हकीकत  यह है कि उनका जन्‍म बरसाना से 50 किलोमीटर दूर हुआ था। यह गांव रावल के नाम प्रसिद्ध है। यहां पर राधा का जन्‍म स्‍थान है।

  • श्री राधा वह महा भाव है, जिनकी प्रेम अनुकम्पा से श्री कृष्ण रस तत्त्व की प्राप्ति होती है।
  • राधा रानी का जन्म इस सृष्टि में श्री कृष्ण भगवान् के साथ प्रेम भाव को मजबूत करने के लिए हुआ था।
  • श्री राधा रानी जो भाद्रपद शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को बरसाने में राधा जी का जन्म हुआ था। इस दिन को राधाष्टमी के नाम से मनाया जाता है। इस तिथि को श्री राधाजी का प्राकट्य हुआ था।
  • श्री radha krishna love story कोई शारीरिक प्रेम नहीं बल्कि, आत्मा से आत्मा का प्रेम था।
  • राधा की माता और पिता का नाम क्या था ? श्री राधा जी के माता नाम हैं कीर्ति अथवा कीर्तिदा एवं पिता का नाम हैं वृषभानु हैं।

यदि आप radha krishna serial episode 1 देखना चाहते हैं तो दिए गए लिंक पर किलिक करें या तो आप सोसल मिडया के माध्यम से भी देखना चाहते हैं जैसे –  trp list radha krishna serial star bharat, radha krishna hotstar, radha krishna tv serial पर जा कर देख सकते हैं।

radha krishna written update
radha krishna written update

तो दोस्त आज के इस पोस्ट में राधा कृष्ण के जन्म और इनके माता – पिता के बारे में जाने और राध कृष्ण का कहां जन्म स्थान के बारे में जाने  यदि आपको राध कृष्ण के माता – पिता का नाम मलुम हैं तो आप कॉमेंट बाक्स में कॉमेंट जरूर लिखे और इसके आगे radha krishna all episode को निचे दिए गऐ लिए किलिक कर सकते हैं। इसे आप radha krishna serial hotstar , star bharat radha krishna के माध्यम से देख सकते हैं।

Radha Krishna Episode 1- Watch Serial Love Story

Related Posts

Click Here To Translate
error: Content is protected !!